अतीक अहमद की 6 बेनामी संपत्तियों को इनकम टैक्स ने किया जब्त, माफिया ने नौकर के नाम पर खरीदी थी करोड़ों की जमीन

लखनऊ समाचार: माफिया अतीक अहमद के खिलाफ इनकम टैक्स विभाग ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई की है। प्रयागराज और आस-पास के जिलों में अतीक की 6 बेनामी संपत्तियों को जब्त किया गया है। जांच में पता चला है कि माफिया ने अपने गुर्गे के नौकर सूरजपाल के नाम करीब 100 बीघे जमीन खरीदी थी।

अतीक अहमद,

लखनऊ:

आयकर विभाग ने माफिया अतीक अहमद की 6 बेनामी संपत्तियों को जब्त कर लिया है. जब्त संपत्तियों का बाजार मूल्य करीब 6.35 करोड़ रुपये बताया जा रहा है. माफिया अतीक ने ये संपत्तियां अपने करीबी मोहम्मद अशरफ उर्फ लल्ला के नौकर सूरजपाल के नाम पर खरीदी थीं। जांच में पता चला कि नौकर सूरजपाल बीपीएल कार्ड धारक है, जिससे संदेह हुआ। जांच में अवैध संपत्ति का पता चला.

2019 से आयकर विभाग अतीक अहमद की बेनामी संपत्तियों की जांच में जुटा हुआ है. अब तक 1800 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कुर्क की जा चुकी है. अतीक ने 10 साल में संगम नगरी के आसपास सूरजपाल के नाम से 100 बीघे जमीन खरीदी थी. इन संपत्तियों की बाजार कीमत करीब 80 करोड़ रुपये बताई जा रही है। जांच में यह भी पता चला है कि अतीक और अशरफ की हत्या के बाद सूरजपाल ने प्रयागराज सदर तहसील के कटहुला गौसपुर गांव में 4 जमीनें 60 लाख रुपये में बेची थीं.

आयकर विभाग की जांच:

आयकर विभाग को जांच में पता चला है कि सूरजपाल इन संपत्तियों को बेचकर अतीक के परिवार की आर्थिक जरूरतें पूरी कर रहा था. आयकर विभाग ने अतीक अहमद, उसके परिवार और गिरोह के सदस्यों के साथ सुरक्षा गार्ड के संबंधों का पता लगाया। इसके लिए यूपी पुलिस, आईजी स्टांप और इनकम टैक्स डेटाबेस के रिकॉर्ड खंगाले गए. आयकर विभाग ने सूरजपाल के आयकर रिटर्न का विश्लेषण किया तो बड़ा खुलासा हुआ. 2018-19 में सूरजपाल की आय और संपत्ति लगभग 40 लाख रुपये थी, जबकि 2022-23 में यह संपत्ति बढ़कर 6.16 करोड़ रुपये हो गई। सूरजपाल इन संपत्तियों को तेजी से ठिकाने लगा रहा था और बेच रहा था। सूरजपाल पर आयकर विभाग का शिकंजा कसने के साथ ही अतीक की बेनामी संपत्तियों की बिक्री पर रोक लग गई है.

आयकर विभाग के प्रयास:

2019 से आयकर विभाग लखनऊ की टीम ने अतीक की बेनामी संपत्तियों के खिलाफ अभियान चला रखा है। इसी कोशिश के तहत अतीक अहमद की कई संपत्तियों पर बुलडोजर चलाया गया है. लूकरगंज इलाके में अतीक के कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन पर गरीबों के लिए 76 फ्लैट बनाए गए हैं. हवेलिया इलाके में भी अतीक के 400 वर्ग मीटर के प्लॉट पर बच्चों के लिए पार्क और मेडिटेशन सेंटर बनाया जाएगा.

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *