आधार समाचार: जन्मतिथि को पहचान पत्र के रूप में मान्यता नहीं, UIDAI ने नियमों में परिवर्तन किया; 1 दिसंबर से यह लागू होगा

आधार कार्ड अपडेट: भारतीय विशिष्ट पहचान पत्र (UIDAI) ने जारी किया आदेश, अब जन्म दिनांक में बदलाव करने पर रोक

आधार कार्ड

आधार समाचार

अब आधार कार्ड का इस्तेमाल जन्मतिथि के प्रमाण पत्र के रूप में नहीं किया जा सकेगा. UIDAI ने यह नया नियम 1 दिसंबर से लागू कर दिया है. फर्जी लोगों द्वारा जन्मतिथि बदलने पर रोक लगाने के लिए यह कदम उठाया गया है. यह नियम नए आधार कार्ड पर भी लागू होगा.

सत्यापन के लिए जन्म प्रमाण पत्र:

नए नियम के बाद जन्म प्रमाण पत्र का आधार कार्ड से सत्यापन कराना जरूरी होगा। यह नियम स्कूल-कॉलेजों में एडमिशन और पासपोर्ट समेत सभी जगहों पर लागू होगा.

नियम में बदलाव का कारण:

यह नया नियम उन लोगों के खिलाफ है जो बार-बार आधार में जन्मतिथि और नाम बदलकर धोखाधड़ी कर रहे थे। यूआईडीएआई ने ऐसे लोगों के खिलाफ कई बार सख्त कार्रवाई की थी, लेकिन सफलता नहीं मिली. इसलिए नियमों में बदलाव किया गया है ताकि ऐसी गतिविधियों पर रोक लगाई जा सके.

समस्याएँ और समाधान:

इस नए नियम के बाद उन लोगों के लिए मुश्किल हो सकती है जिनके पास जन्म प्रमाण पत्र नहीं है। यह उन सरकारी योजनाओं और अन्य सुविधाओं के लिए समस्या बन सकता है जो आधार से जुड़ी हैं। यूआईडीएआई ने सत्यापन के लिए जन्म प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता बताई है।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *