उत्तर प्रदेश मानसून: बारिश के कारण आठ लोगों की मौत, पिछले 24 घंटों में बढ़ते हादसों का संक्षिप्त विवरण

चेतावनी उत्तर प्रदेश मानसून: पिछले 24 घंटों में वर्षा से जुड़े हादसों में 8 लोगों की मौत, फर्रुखाबाद में डूबने से मौत और गोंडा और गाजीपुर में सांप के काटने से मौत।

बिजली गिरने के घातक प्रभाव

लखनऊ

उत्तर प्रदेश में बारिश के कारण हुए हादसों ने आम लोगों की जिंदगी पर गहरा असर डाला है. राज्य में पिछले 24 घंटों में बारिश से जुड़ी घटनाओं में आठ लोगों की मौत हो गई है. इन मौतों का कारण पानी में डूबना, बिजली गिरना और सांप का काटना जैसे कई कारण हैं। बुधवार को जारी बयान में राहत आयुक्त ने बताया कि राज्य के पश्चिमी हिस्सों में बारिश अभी भी जारी है.

उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों में Farrukhabad में डूबने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि गोंडा और गाजीपुर में सर्पदंश से एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। इसके अलावा फर्रुखाबाद और अलीगढ़ में बिजली गिरने से एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि अन्य घटनाओं में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई.

अलग-अलग कारणों से हुई मौतों की सूची इस प्रकार है: पिछले 24 घंटों में राज्य में पानी में डूबने, करंट लगने और सांप के काटने जैसे कारणों से 8 लोगों की मौत हो गई. ये दुर्घटनाएं फर्रुखाबाद, अलीगढ़, गोंडा और ग़ाज़ीपुर जिलों में हुईं.

बदांयू में गंगा खतरे के निशान के पार सिंचाई विभाग के मुताबिक, बदायूँ में गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। इसके साथ ही कानपुर और फर्रुखाबाद में भी गंगा खतरे के निशान के करीब है. लखीमपुर खीरी में शारदा नदी भी खतरे के निशान के करीब है. मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 4.5 सेमी बारिश हुई है. राज्य के 75 में से 11 जिलों में भारी बारिश दर्ज की गई है, जबकि अन्य जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हुई है.

कई जिलों में भारी बारिश का अनुमान:

मौसम विभाग ने राज्य के मुजफ्फरनगर, पीलीभीत, सहारनपुर, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, लखीमपुर, बहराईच, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर और कुशीनगर जिलों में अगले 48 घंटों में भारी बारिश का अनुमान लगाया है. इन जिलों में लगातार भारी बारिश की संभावना है. साथ ही राजधानी लखनऊ में हल्की बारिश के साथ मौसम शुष्क रह सकता है।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *