कर्नाटक में जैन मुनि कामकुमार नंदी महाराज की निर्मम हत्या! शव को टुकड़े-टुकड़े फेंका, दो संदिग्ध अरेस्ट किए गए

बेलगाम जिले में जैन मुनि कामकुमार नंदी महाराज की निर्मम हत्या, पुलिस द्वारा दो संदिग्ध गिरफ्तार

जैन मुनि कामकुमार नंदी महाराज

कर्नाटक के बेलगाम जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक जैन मुनि (भिक्षु) की निर्मम हत्या कर दी गई है। उनके शरीर को टुकड़े-टुकड़े कर दिया गया है। हालांकि, पुलिस अभी तक शव बरामद नहीं कर सकी है। जैन मुनि कामकुमार नंदी महाराज दो दिन पहले गुरुवार, 6 जुलाई को लापता हो गए थे। पुलिस ने इस सिलसिले में दो संदिग्धों को भी गिरफ्तार किया है।

नंदी पर्वत आश्रम में रहते थे जैन मुनि 108 कामकुमार नंदी जी महाराज:

बेलगाम जिले के चिक्कोड़ी क्षेत्र में नंदी पर्वत आश्रम है, जहां जैन मुनि 108 कामकुमार नंदी जी महाराज पिछले 15 वर्षों से निवास कर रहे थे। वे हिरेकोडी गांव के आचार्य कामकुमार नंदी चैरिटेबल ट्रस्ट के प्रमुख हैं। परिसर के अनुसार, उनकी लापता होने पर शिष्यों की चिंता बढ़ गई और उन्हें खोजने का प्रयास किया गया। पुलिस को इस गांव के पास बहने वाली नदी में शव की तलाश करनी हो रही है।

जैनमुनि के एक परिचित पर हत्या का आरोप:

गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस ने जैन मुनि के एक परिचित को गिरफ्तार किया है। यह संदिग्ध हत्या का आरोपी है और पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया है। आरोपी ने हत्या की बात स्वीकार की है और इसका कारण पैसों की लेनदेन का विवाद बताया है। पुलिस अभी तक इस हतया का खुलासा नहीं किया है।

नदी में खोजा जा रहा शव:

संदिग्धों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस नदी में जैन मुनि के शव की खोज कर रही है। आरोपियों ने बताया है कि शव को टुकड़ों में काटकर गांव के पास नदी में फेंका गया है। लगातार हो रही बारिश के कारण पुलिस को शव की खोज में कठिनाई हो रही है। आश्रम परिसर की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

सार:

जैन मुनि 108 कामकुमार नंदी जी महाराज पिछले 15 वर्षों से नंदी पर्वत आश्रम में निवास कर रहे हैं। वे हिरेकोडी गांव के आचार्य कामकुमार नंदी चैरिटेबल ट्रस्ट के प्रमुख हैं।

यह भी पढ़ें:

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *