पैसे लेने के आरोप में Loksabha में सवाल पूछने पर महुआ मोइत्रा के खिलाफ क्या कार्रवाई होगी! एथिक्स कमेटी को भेजी गई शिकायत

Mahua Moitra विचार संरचना के लिए रिश्वत के मामले में भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने लगाए आरोप।

महुआ मोइत्रा आरोप

पैसे लेने और लोकसभा में सवाल पूछने के आरोपों के आधार पर रिश्वत मामले में महुआ मोइत्रा के खिलाफ कार्रवाई की उम्मीद है. बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने यह आरोप लगाया और मामले की जांच के लिए एथिक्स पैनल भेजा.

निशिकांत दुबे ने लगाए आरोप 

निशिकांत दुबे ने कहा कि महुआ ने पैसे लेकर लोकसभा में सवाल पूछा और इस संबंध में आरोप लगाये. उन्होंने कहा कि महुआ ने उन पर संसद में सवाल पूछने के लिए एक व्यवसायी से “रिश्वत” लेने का आरोप लगाया था, और यह भी मांग की थी कि संसद में उनके खिलाफ एक जांच समिति बनाई जाए।

महुआ मोइत्रा ने दिया जवाब

महुआ मोइत्रा ने आरोपों से इनकार किया और कहा कि उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष निशिकांत दुबे के आरोपों का प्रतिवाद किया है. उन्होंने इसे नकारात्मक और अविश्वसनीय बताया और कहा कि वह निशिकांत दुबे के आरोपों के खिलाफ हैं.

रविवार को, दुबे ने संसद में महुआ मोइत्रा के खिलाफ “क्वेरी फॉर कैश” नामक मामले में उनकी प्रत्यक्ष संलिप्तता का आरोप लगाते हुए “विशेषाधिकार के उल्लंघन” का आरोप लगाया।

सबूत पेश करते हुए निशिकांत दुबे ने एक वकील द्वारा लिखे गए पत्र का हवाला दिया और कहा कि वकील ने एक तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) नेता और एक व्यवसायी के बीच रिश्वत के आदान-प्रदान के सबूत साझा किए थे। दुबे ने कहा कि लोकसभा में उनके द्वारा पूछे गए 61 सवालों में से 50 सवाल अडानी समूह पर केंद्रित थे, जो टीएमसी सांसद ने एक विशेष व्यापारिक समूह के हित में पूछे थे.

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *