बड़ी खबर! चंद्रयान-3 के सफल लैंडिंग के बाद यूपी के इस शहर में खगोलशास्त्रीय लैब की शुरुआत, सरकार की पूरी योजना जानिए

बुलंदशहर जिला के अधिकारी चंद्रप्रकाश सिंह ने बताया कि चन्द्रयान-3 रोवर की सफल लैंडिंग के बाद जिले में 109 नए खगोलशास्त्रीय लैब बनाए जाएंगे।

खगोलशास्त्रीय लैब,

मुकेश राजपूत/बुलंदशहर:

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के चंद्रयान-3 मिशन के रोवर के चंद्रमा पर सफलतापूर्वक उतरने के बाद, बुलंदशहर जिले में खगोलीय प्रयोगशालाओं के एक नए सेट का उद्घाटन किया गया है। इस योजना के तहत पहले से मौजूद 109 खगोल विज्ञान प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़ाई जाएगी और इन प्रयोगशालाओं में विभिन्न खगोल विज्ञान गतिविधियाँ आयोजित की जाएंगी। यह कदम स्थानीय छात्रों को वैज्ञानिक दृष्टिकोण से प्रेरित करने का एक बड़ा प्रयास है।

जनपद बुलन्दशहर के विभिन्न परिषदीय विद्यालयों में खगोलीय प्रयोगशालाएं स्थापित की जायेंगी, जिससे विद्यार्थियों को खगोल विज्ञान का अध्ययन करने का अवसर मिलेगा। इन प्रयोगशालाओं में विभिन्न खगोलीय प्रयोगों के लिए उपकरण और उपकरण स्थापित किए जाएंगे।

जिला प्रशासन ने इस योजना के तहत खगोल विज्ञान के शिक्षकों को प्रशिक्षित करने की योजना बनाई है, ताकि वे छात्रों को उनकी अध्ययन सामग्री और प्रयोगों के साथ-साथ महत्वपूर्ण खगोलीय आवश्यकताओं को समझा सकें।

डीएम चंद्र प्रकाश सिंह ने खगोल विज्ञान प्रयोगशालाओं को विकसित करने में लोगों की भागीदारी की अपील की है और इन प्रयोगशालाओं का नाम खगोल विज्ञान में प्रमुख योगदानकर्ताओं के नाम पर रखने की योजना बनाई है। इसके साथ ही नई खगोलीय गतिविधियों के लिए नए उपकरण भी हासिल किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *