मुश्किलों में फंसी स्पाइसजेट को मिली 413 करोड़ रुपये की राहत

स्पाइसजेट के शेयर में 5% की भरपूर उछाल, 413 करोड़ रुपये के विवाद का समापन

स्पाइसजेट,

मुश्किलों में फंसी स्पाइसजेट

भारत की बजट एयरलाइन स्पाइसजेट अपनी मुश्किलें कम करने की कोशिश कर रही है। कंपनी को इस प्रयास में गुरुवार को सफलता मिली. स्पाइसजेट ने कहा कि उसने विमान पट्टे पर देने वाली कंपनी एश्लॉन आयरलैंड मैडिसन वन लिमिटेड के साथ 413 करोड़ रुपये का विवाद सुलझा लिया है।

इससे पहले स्पाइसजेट ने पिछले दो हफ्ते में इस तरह का तीसरा विवाद सुलझाया है. कंपनी ने एक बयान में कहा है कि इस कानूनी विवाद के खत्म होने से 48 मिलियन डॉलर (करीब 398 करोड़ रुपये) की बचत होगी।

इस विवाद के तहत स्पाइसजेट दो एयरफ्रेम का अधिग्रहण करेगी, जो बिना इंजन वाले विमान हैं। ये एयरफ्रेम बोइंग 737 एनजी विमान के हैं और इससे कंपनी को कुल 685 करोड़ रुपये की बचत होगी। इससे पहले स्पाइसजेट ने क्रॉस ओशन पार्टनर्स के साथ 11.2 मिलियन डॉलर और सेलेस्टियल एविएशन के साथ 29.9 मिलियन डॉलर का विवाद सुलझाया था।

इस खबर के बाद स्पाइसजेट के शेयरों में 5 फीसदी का भारी उछाल देखने को मिला. शुरुआती कारोबार में स्टॉक 62 रुपये पर खुला और 5.50 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 65.40 रुपये के इंट्राडे हाई पर पहुंच गया। हालांकि, कारोबार के अंत में शेयर में कुछ गिरावट देखी गई और स्पाइसजेट के शेयर 64.10 रुपये पर बंद हुए। कंपनी ने हाल ही में 1400 कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा की है, लेकिन उम्मीद है कि विवादों के खत्म होने के बाद स्पाइसजेट के अच्छे दिन आने वाले हैं।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *