सीबीआई और सीआईडी के बीच अंतर: जानें दोनों की प्रमुख विशेषताएँ

सीबीआई और सीआईडी में अंतर क्या है, इसे समझने के लिए यहां पढ़ें विस्तार से वर्णन

"सीबीआई और सीआईडी अंतर"

सीबीआई और सीआईडी ​​के बीच अंतर जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि दोनों भारत में प्रमुख आपराधिक जांच एजेंसियां ​​हैं जो आपराधिक मामलों की जांच करती हैं और कार्रवाई करती हैं। यहां हम आपको सीबीआई और सीआईडी ​​के बीच विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी देंगे।

  1. आईसीसी:
    सीबीआई का पूरा नाम “केंद्रीय जांच ब्यूरो” है। यह एजेंसी केंद्र सरकार पर निर्भर रहती है और उसके अनुरोध पर शोध कार्य करती है। सीबीआई केंद्र सरकार की अनुमति से भारत भर में विभिन्न मामलों की जांच कर सकती है जैसे भ्रष्टाचार, हत्या, धोखाधड़ी और अन्य कार्यों की जांच। विशेष आवश्यकता होने पर ही इसे केंद्र सरकार से मंजूरी मिलती है।
  2. दिसंबर:
    CID का गठन ब्रिटिश काल के दौरान वर्ष 1902 में किया गया था। इसे “अपराध जांच विभाग” के नाम से भी जाना जाता है। सीआईडी ​​हत्या, अपहरण, दंगे और डकैती जैसे आपराधिक मामलों की भी जांच करती है। यह एजेंसी राज्य सरकार के अधीन काम करती है और राज्य में होने वाले मुद्दों की जांच करती है। सीआईडी ​​कोर्ट के आदेश पर या राज्य सरकार के निर्देश पर ही किसी मामले की जांच करती है.

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *