‘सी-295 विमान: भारतीय वायुसेना के लिए एक नए युग की शुरुआत, IAF की रीढ़ बनेगा’

‘सी-295 विमान ने भारतीय वायुसेना में एक नये युग की शुरुआत की घोषणा की; पूर्व वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने दिया महत्वपूर्ण संदेश’

भारतीय वायुसेना,

गाजियाबाद, पीटीआइ

C-295 विमान अब भारतीय वायुसेना का हिस्सा है। वायुसेना के पूर्व एयर चीफ मार्शल (सेवानिवृत्त) आरकेएस भदौरिया ने भारतीय वायुसेना में सी-295 के शामिल होने को एक नए युग की संज्ञा दी है। आरकेएस भदौरिया ने सोमवार को कहा कि भारतीय वायु सेना में सी-295 विमान का शामिल होना एक नए युग की शुरुआत है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यह विमान वायुसेना की रीढ़ बनेगा।

पूर्व वायुसेना प्रमुख भदौरिया ने कहा कि यह विमान अत्याधुनिक और सक्षम है. उन्होंने कहा कि आज भारतीय वायुसेना के लिए ऐतिहासिक दिन है. वायुसेना में सी-295 टेक्निकल मिलिट्री एयरलिफ्ट विमान का शामिल होना एक नए युग की शुरुआत है।

‘पूर्व वायुसेना प्रमुख ने कहा कि सी-295 विमान भारतीय वायुसेना के लिए गेम-चेंजर साबित होगा. भदौरिया ने कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि जिस विमान को हम वायुसेना में शामिल कर रहे हैं वह अत्याधुनिक है और भविष्य के बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।

‘आपको बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में हिंडन एयर बेस पर C-295 विमान को भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया है. इस मौके पर एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी भी मौजूद रहे.

”गौरतलब है कि राफेल लड़ाकू विमानों का पहला बैच सितंबर 2020 में शामिल किया गया था। उस दौरान, भदौरिया के पास वायु सेना प्रमुख की जिम्मेदारी थी। हालांकि, अब भारतीय वायु सेना पुराने एवरो- को बदलने के लिए सी-295 विमान खरीद रही है।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *