IND vs ENG: Ravichandran Ashwin के निशाने पर होंगे कई रिकॉर्ड्स, ये कारनामा करने वाले बनेंगे नंबर-1 भारतीय गेंदबाज

भारत और इंग्‍लैंड के बीच 25 जनवरी से पांच टेस्‍ट मैचों की सीरीज का आगाज होगा। दोनों टीमों के बीच पहला टेस्‍ट हैदराबाद में खेला जाएगा। भारतीय टीम के अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन इस सीरीज को अपने लिए विशेष बनाना चाहेंगे। रविचंद्रन अश्विन के निशाने पर आगामी टेस्‍ट सीरीज में कई रिकॉर्ड्स होंगे। अश्विन इंग्‍लैंड के खिलाफ ये कारनामा करने वाले नंबर-1 भारतीय गेंदबाज बनना चाहेंगे।

रविचंद्रन अश्विन,

IND vs ENG:

भारत और इंग्लैंड के बीच 25 जनवरी से हैदराबाद में शुरू होने वाली पांच टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले रविचंद्रन अश्विन ने अपनी निगाहें ऊंची कर ली हैं। इस सीरीज के दौरान वह एक और उपलब्धि हासिल कर सकते हैं, जिसकी बदौलत वह नंबर एक भारतीय गेंदबाज बन सकते हैं।

फिलहाल, इंग्लैंड की टीम भारत में टेस्ट सीरीज जीतने की कोशिश कर रही है, जबकि भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में ताकत हासिल करने की कोशिश करेगी। इसमें रविचंद्रन अश्विन का योगदान काफी अहम हो सकता है.

अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ अब तक 19 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 88 विकेट लिए हैं. उनका लक्ष्य 100 टेस्ट विकेट का आंकड़ा पार करना है, जिससे वह भारत के लिए ऐतिहासिक गेंदबाज बन सकें. जेम्स एंडरसन के 139 टेस्ट विकेट के रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए अश्विन को इस सीरीज में 12 या उससे ज्यादा विकेट लेने होंगे.

इसके अलावा अश्विन का लक्ष्य बीएस चंद्रशेखर को भी पीछे छोड़ना है, जिनके नाम इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने का रिकॉर्ड है. चन्द्रशेखर ने 23 टेस्ट में 95 विकेट लिए थे, जबकि अश्विन 19 टेस्ट में 88 विकेट के साथ तीसरे स्थान पर हैं। इससे साफ है कि अश्विन को बीएस चन्द्रशेखर के रिकॉर्ड को छूने के लिए इस सीरीज में एक बड़ी उपलब्धि हासिल करनी होगी.

आखिरकार, अश्विन 500 टेस्ट विकेट के करीब हैं, जिसके लिए उन्हें सिर्फ 10 और विकेट की जरूरत है। अगर वह इस सीरीज में अपना लक्ष्य पूरा कर लेते हैं तो वह भारतीय इतिहास में अनिल कुंबले के बाद 500 टेस्ट विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज बन सकते हैं। रविचंद्रन अश्विन की मेहनत और योगदान को देखते हुए वह इस सीरीज में इन अहम लक्ष्यों को हासिल करने की कोशिश करेंगे.

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *