LIC बनाम पोस्ट ऑफिस: निवेशकों के लिए बेस्ट क्या है?

निवेश के लिए चुनें LIC या पोस्ट ऑफिस? यहाँ है सही राह!

LIC vs Post Office,

LIC बनाम पोस्ट ऑफिस:

सुरक्षित निवेश करना और बेहतरीन रिटर्न पाना हर निवेशक की चाहत होती है। इसलिए सरकारी बीमा कंपनी एलआईसी और पोस्ट ऑफिस की योजनाओं पर लोगों का भरोसा बढ़ रहा है. एलआईसी अपने निवेशकों को कई विकल्प देती है, जिसमें उनकी पूंजी सुरक्षित रहती है और उन्हें अच्छा ब्याज भी मिलता है। वहीं, पोस्ट ऑफिस अपने निवेशकों को बेहतरीन रिटर्न और सुरक्षा की गारंटी भी देता है। तो अगर आप भी निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो आइए देखें कि एलआईसी और पोस्ट ऑफिस में निवेश के लिहाज से क्या बेहतर है।

डाकघर के लाभ

पोस्ट ऑफिस से आपको 9 अलग-अलग निवेश विकल्प मिलते हैं, जिसमें आप सालाना 8% तक ब्याज कमा सकते हैं। इसके अलावा भी एलआईसी की कई योजनाएं हैं, जो आपके लिए उपयुक्त हो सकती हैं। अगर आप पोस्ट ऑफिस में निवेश कर अच्छा रिटर्न पाने की सोच रहे हैं तो कई योजनाएं आपके लिए फायदेमंद हो सकती हैं। इनमें बचत खाता, सावधि जमा (टीडी) खाता, एससीएसएस, पीपीएफ, केवीपी, एनएससी, एमआईएस और सुकन्या समृद्धि खाता (एसएसवाई) शामिल हो सकते हैं। इन खातों में आपको 8% तक का बेहतरीन रिटर्न मिल सकता है।

एलआईसी के फायदे

एलआईसी के पास कई बीमा योजनाएं हैं, लेकिन इसकी बीमा बचत योजना मनी बैक योजना है। इसमें मैच्योरिटी पर अगर आपने एक भी प्रीमियम के लिए कोई लॉयल्टी ली है तो वह उसके साथ वापस कर दी जाती है. इस योजना में निवेशक की नकदी जरूरतों का भी ख्याल रखा जाता है और इसलिए इसमें आपको लोन की सुविधा भी मिलती है। आप अपनी पॉलिसी की अवधि अपनी पसंद के अनुसार 9, 12 और 15 वर्ष में से चुन सकते हैं। यदि पॉलिसीधारक की पॉलिसी अवधि के दौरान मृत्यु हो जाती है, तो बीमा राशि देय होती है, और वफादारी अतिरिक्त, यदि कोई हो, भी देय होती है। नई बीमा बचत योजना में निवेश करने की न्यूनतम आयु 15 वर्ष है, जबकि अधिकतम आयु सीमा 50 वर्ष है।

यह भी पढ़ें

Read More Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *